राजनीति के साथ हर विषय पर लेख पढने को मिलेंगे....

शुक्रवार, नवंबर 05, 2010

आज है दीवाली, हर घर में हो खुशहाली

आज है दीपों का पर्व दीवाली
हर आंगन में दीप चले
हर घर में हो खुशहाली
सब मिलकर मनाए
भाई चारे से दीवाली
रहे न किसी की झोली खाली
ऐसी हो सबकी दीवाली
हिन्दु, मुस्लिम, सिख, ईसाई
जब सब हैं हम भाई-भाई
तो फिर काहे करते हैं लड़ाई
दीवाली है सबके लिए खुशिया लाई
आओ सब मिलकर खाए मिठाई
और भेद-भाव की मिटाए खाई

19 टिप्पणियाँ:

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi शुक्र नव॰ 05, 09:13:00 am 2010  

दीपावली पर हार्दिक शुभकामनाएँ!!!

अजय कुमार शुक्र नव॰ 05, 09:30:00 am 2010  

प्रदूषण मुक्त दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें

अजय कुमार शुक्र नव॰ 05, 09:30:00 am 2010  

प्रदूषण मुक्त दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें

ललित शर्मा शुक्र नव॰ 05, 09:52:00 am 2010  

सुंदर कविता

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं

मनोज कुमार शुक्र नव॰ 05, 10:40:00 am 2010  

बहुत अच्छी प्रस्तुति।
चिरागों से चिरागों में रोशनी भर दो,
हरेक के जीवन में हंसी-ख़ुशी भर दो।
अबके दीवाली पर हो रौशन जहां सारा
प्रेम-सद्भाव से सबकी ज़िन्दगी भर दो॥
दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई!
सादर,
मनोज कुमार

जी.के. अवधिया शुक्र नव॰ 05, 10:51:00 am 2010  

दीपावली के इस शुभ बेला में माता महालक्ष्मी आप पर कृपा करें और आपके सुख-समृद्धि-धन-धान्य-मान-सम्मान में वृद्धि प्रदान करें!

Sanjeet Tripathi शुक्र नव॰ 05, 10:58:00 am 2010  

आपको भी दीप पर्व की बधाई और शुभकामनाएं

ZEAL शुक्र नव॰ 05, 11:38:00 am 2010  

आओ सब मिलकर खाए मिठाई
और भेद-भाव की मिटाए खाई

Bahut sundar kavita.

Happy Diwali

.

mindwassup शुक्र नव॰ 05, 03:23:00 pm 2010  

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं

शिक्षामित्र शुक्र नव॰ 05, 03:40:00 pm 2010  

आप उल्लेखनीय योगदान कर रहे हैं। दीपावली की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ स्वीकार करें।

tina शुक्र नव॰ 05, 04:29:00 pm 2010  

दीपावली पर हार्दिक शुभकामनाएँ

neha शुक्र नव॰ 05, 04:31:00 pm 2010  

दीप पर्व की बधाई और शुभकामनाएं

rajesh patel शुक्र नव॰ 05, 04:32:00 pm 2010  

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं

Indranil Bhattacharjee ........."सैल" शुक्र नव॰ 05, 05:07:00 pm 2010  

आपको और आपके परिवार को एक सुन्दर, शांतिमय और सुरक्षित दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें !

ali शुक्र नव॰ 05, 06:59:00 pm 2010  

मंगल कामनायें !

अशोक बजाज शनि नव॰ 06, 02:07:00 am 2010  

'असतो मा सद्गमय, तमसो मा ज्योतिर्गमय, मृत्योर्मा अमृतं गमय ' यानी कि असत्य की ओर नहीं सत्‍य की ओर, अंधकार नहीं प्रकाश की ओर, मृत्यु नहीं अमृतत्व की ओर बढ़ो ।

दीप-पर्व की आपको ढेर सारी बधाइयाँ एवं शुभकामनाएं ! आपका - अशोक बजाज रायपुर

महेन्द्र मिश्र शनि नव॰ 06, 09:00:00 am 2010  

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं...

Related Posts with Thumbnails

ब्लाग चर्चा

Blog Archive

मेरी ब्लॉग सूची

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP