राजनीति के साथ हर विषय पर लेख पढने को मिलेंगे....

शनिवार, जनवरी 08, 2011

अब तेरा क्या होगा रे पीलिया .....

हूं... कितने ब्लागर थे?
सरदार एक ब्लागर
एक ब्लागर ...
और तुम साले इतनी बार फर्जी आईडी बनाने के बाद भी उसका कुछ नहीं बिगाड़ सके।
इसकी सजा मिलेगी.. बराबर मिलेगी
बोलो कितनी गोली है इसके अंदर
सरदार छह गोली...
गोली छह और फर्जी आईडी के नाम न जाने कितने
बहुत बेइंसाफी है ये..
तेरा क्या होगा पीलिया...
सरदार मैंने आपके कहने से ही ये नाम रखा था
तो अब नाम बदल डाला
बदल डाला सरदार
क्या नया नाम रखा है रे
सरदार जब बार-बार काड़ीबाज.. काड़ीबाज कहा जा रहा है तो इस बार काड़ीबाज के नाम से ही आईडी बना ली है।
हां...हां.. हां..
बहुत खूब
कोई असर हुआ इस नाम का..
सरदार अब तक तो नहीं हुआ
क्यों...
सरदार उसने दूसरे ब्लाग में भी मॉडरेशन लगा लिया है।
क्या इसका कोई तोड़ नहीं है
नहीं है सरदार..
कोई बात नहीं... तुम अपना काम करते रहो
या तो तुम परेशान हो जाओगे या वो ब्लागर परेशान हो जाएगा
ठीक है सरदार मैं अपना काम जारी रखूंगा
अगर वो परेशान न हो तो कोई दूसरा ब्लागर तलाश लेना
यहां बहुत से ऐसे मुर्गे हैं जो परेशान किए जा सकते हैं।

6 टिप्पणियाँ:

guru शनि जन॰ 08, 09:08:00 am 2011  

गुरु, आपका जवाब नहीं

pranav शनि जन॰ 08, 09:12:00 am 2011  

हमने समझा कि आप पीलिया बीमरी की बात कर रहे हैं, पर आपने तो कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना वाला काम कर दिया है।

दीपक बाबा शनि जन॰ 08, 01:07:00 pm 2011  

प्रिन्स साहेब, आज कहाँ तीर चला दिया..........

ali मंगल जन॰ 11, 07:47:00 am 2011  

मैंने सोचा इंजी.गिरिजेश राव की पोस्ट वाला पीलिया होगा पर ये तो कुछ और ही निकला :)

Related Posts with Thumbnails

ब्लाग चर्चा

Blog Archive

मेरी ब्लॉग सूची

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP