राजनीति के साथ हर विषय पर लेख पढने को मिलेंगे....

शुक्रवार, अक्तूबर 23, 2009

नहीं खुल रहे थे ब्लाग-जानकारी लेने लोग करते रहे भागमभाग

आज अचानक 11.30 बजे के आस-पास सारे ब्लागों की बोलती बंद हो गई। हम जब घर से प्रेस गए और मीटिंग निपटाने के बाद ब्लाग खोलने का प्रयास किया तो हमारा राजतंत्र नहीं खुला। हमने कई बार प्रयास किया, पर नहीं खुला, फिर हमने अपने दूसरे ब्लाग खेलगढ़ को खोलने का प्रयास किया पर सफलता नहीं मिली। इसके बाद हमने ब्लागवाणी से और कई ब्लागों को खोलने का प्रयास किया, पर कोई भी ब्लाग नहीं खुला। गुगल से भी प्रयास सफल नहीं हुआ। तब तक अपने मित्र ललित शर्मा जी का फोन आया कि भईया हमारा ब्लाग खुल ही नहीं रहा है। हमने उनको बताया कि शर्मा जी घबराने की जरूरत नहीं है, सिर्फ आपका ही नहीं बल्कि किसी का भी ब्लाग नहीं खुल रहा है। हमने कई ब्लागों को खोलने का प्रयास किया, पर कोई नहीं खुल रहा है, सभी की बोलती बंद है, जरूर कोई तकनीकी खामी है, थोड़ी देर में ठीक हो जाएगी।

यह खामी अब ठीक हो चुकी है। यह खामी कब ठीक हुई हम ठीक-ठीक तो नहीं बता सकते पर जब 11.30 बजे के बाद हमने दो बजे अभी ब्लाग खोला तो खुल गया। अब सारे ब्लाग खुल रहे हैं। हो सकता है ब्लाग बिरादरी के और भी कई मित्र परेशान रहे हों और यह सोच रहे हों कि कहीं उनके ब्लाग में तो ताला नहीं लगा दिया गया। जरूर कई लोगों ने ब्लाग बंद होने का राज जानने अपने शर्मा जी की तरह ही भागमभाग की होगी। लेकिन अब सब खुल जा सिम सिम हो गया है।

7 टिप्पणियाँ:

जी.के. अवधिया शुक्र अक्तू॰ 23, 02:35:00 pm 2009  

ब्लॉगर.कॉम में कुछ समस्या आने के कारण ऐसा हुआ था और इस विषय में गूगल टीम ने http://www.google.com/support/forum/p/blogger/thread?tid=5107323f8bdc660d&hl=en और http://twitter.com/Blogger/status/5090914533 में सूचित कर दिया था।

Etips-Blog शुक्र अक्तू॰ 23, 02:39:00 pm 2009  

aisa hi huva tha..
http://etips-blog.blogspot.com

शरद कोकास शुक्र अक्तू॰ 23, 02:40:00 pm 2009  

और इसके अलावा फोनलाइन मे भी समस्या थी , होगया ना काम !! हम ना नामवर जी से सम्पर्क कर हिन्दी ब्लॉगिंग के बारे मे उनके विचार जान पये न उसे ब्लॉग पर दे पाये । फोटो धरी की धरी रह गई ।

पी.सी.गोदियाल शुक्र अक्तू॰ 23, 02:57:00 pm 2009  

इसलिए ब्लोग्गर विरादरी को एक सजेसन देना चाहूँगा कि आप अपनी महत्वपूर्ण रचनाओं का प्रिंटआउट भी रखा करे, ब्लॉग पर गूगल के भरोशे ही न रहे, राम जाने अगर कभी पूरा ही ताला लग गया तो ?

M VERMA शुक्र अक्तू॰ 23, 05:19:00 pm 2009  

मै भी परेशान था इसी समस्या से.

cmpershad शुक्र अक्तू॰ 23, 06:15:00 pm 2009  

तकनीक के भरोसे जीवन चलना है तो.... यह तो होना ही था:)

Related Posts with Thumbnails

ब्लाग चर्चा

Blog Archive

मेरी ब्लॉग सूची

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP