राजनीति के साथ हर विषय पर लेख पढने को मिलेंगे....

बुधवार, नवंबर 18, 2009

सड़क हादसे में चार खिलाडिय़ों की मौत से खेल बिरादरी सकते में

राज्य पाइका में शामिल होने रायगढ़ जा रही बीजापुर की चार खिलाडिय़ों की सड़क हादसे में मौत से प्रदेश के खेल जगत में शोक की लहर है। पूरा खेल जगत इस हादसे से सकेत में है। पहली बार किसी सड़क हादसे में खिलाडिय़ों की मौत हुई है। इस हादसे के कारण रायगढ़ की राज्य पाइका स्पर्धा का उद्घाटन रद्द करके स्पर्धा का प्रारंभ एक सादे समारोह में किया गया। घायल खिलाडिय़ों को देखने जहां अंबेडकर अस्पताल में खेल संचालक जीपी सिंह सहित खेल विभाग का पूरा अमला पहुंच गया था, वहीं खबर लगते ही खेल संघों के पदाधिकारी भी वहां पहुंचे।

राज्य पाइका का आयोजन १७ नवंबर से रायगढ़ में किया है। इस आयोजन में शामिल होने जा रहे बीजापुर जिले की महिला खिलाडिय़ों से भरी बोलेरो की भिड़ंत कल रात को केशकाल के पास एक ट्रक से हो गई जिसके कारण चार खिलाडिय़ों तरूणा, चंपा, रामदेई और मंजू की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इसी के साथ छह खिलाड़ी अमतली, राजकुमारी यादव, डाली, सुलोचना, लक्ष्मी और बनीता घायल हो गर्इं। इन घायलों को रायपुर के अंबेडकर अस्पाल लाया गया और इसकी सूचना जैसे ही खेल विभाग के अधिकारियों को मिली तो तत्काल राजधानी के वरिष्ठ खेल अधिकारी राजेन्द्र डेकाटे, उपसंचालक ओपी शर्मा सहित पूरे खेल विभाग का अमला अस्पताल पहुंच गया। बाद में खेल संचालक जीपी सिंह भी अस्पताल आए। उन्होंने खिलाडिय़ों से मिलकर उनका हाल जाना और खिलाडिय़ों के इलाज के बारे में डॉक्टरों से बात की।

इधर घटना के बारे में जैसे-जैसे खेल संघों के पदाधिकारियों और खिलाडिय़ों को मालूम हुआ सभी एक-एक करके अस्पताल पहुंच गए। अस्पताल पहुंचने वालों में वालीबॉल संघ के मो. अकरम खान, तीरंदाजी संघ के कैलाश मुरारका, नेटबाल संघ के संजय शर्मा, ट्रायथलान संघ के विष्णु श्रीवास्तव, कराते संघ के अजय साहू, एनआईएस कोच गजेन्द्र पांडे, खेल विभाग के अजीत टोपो, संजय पाल, सुशांत पाल, दयालू राम, विलियम लकड़ा, जेपी नापित, सुधा कुमार, रश्मि, मिंगराज रेड्डी सहित सारे अधिकारी थे।

ओपी शर्मा और राजेन्द्र डेकाटे ने बताया कि उन्होंने अपने २० साल से ज्यादा के खेल अधिकारी के जीवन में कभी खिलाडिय़ों को किसी सड़क हादसे में मरने की घटना नहीं देखी। छत्तीसगढ़ के खिलाडिय़ों की पहली बार सड़क में दर्दनाक मौत हुई है। खिलाडिय़ों की मौत से पूरा खेल जगत शोक में डुब गया है। खेल संचालनालय के साथ राजधानी के खेल विभाग के नेताजी स्टेडियम के कार्यालय में शोक सभा का आयोजन करके खिलाडिय़ों को श्रद्धांजलि दी गई।

इधर खेल संचालक जीपी सिंह ने बताया कि रायगढ़ में आज से प्रारंभ हुई राज्य पाइका स्पर्धा का उद्घाटन कार्यक्रम रद्द करके उसके स्थान पर सादे समारोह में ही स्पर्धा का प्रारंभ किया गया। वहां भी खिलाडिय़ों के साथ हुई घटना के बारे में जानकारी होने पर सारे खिलाड़ी, खेलों से जोड़े लोग सकेत में आ गए। मृतक खिलाडिय़ों को खेलों के प्रारंभ होने से पहले शोक सभा में श्रद्धांजलि दी गई।

5 टिप्पणियाँ:

ajay बुध नव॰ 18, 09:16:00 am 2009  

बहुत ही दुखद घटना है छत्तीसगढ़ के खेल जगत के लिए, कराते परिवार की तरफ से मृत खिलाडिय़ों को श्रृद्धा सुमन आर्पित हैं।

sanjay pal,  बुध नव॰ 18, 09:17:00 am 2009  

घटना के कारण हमारे खेल विभाग में काम ही नहीं हो सका।

राजकुमार ग्वालानी बुध नव॰ 18, 09:19:00 am 2009  

छत्तीसगढ़ खेल पत्रकार संघ के अध्यक्ष के नाते हम खेल पत्रकारों की तरफ से मृतकों के परिजनों के लिए भगवान से दुआ करते हैं कि उनको इस कठिन घड़ी में साहस दे। खेल जगत में सदा इन खिलाडिय़ों का नाम अमर रहेगा। छत्तीसगढ़ का खेल पत्रकार परिवार अपनी श्रद्धाजंलि समर्पित करता है।

sushil varma,  बुध नव॰ 18, 09:27:00 am 2009  

सच में यह खेल जगत के लिए सकते की बात है।

MANOJ KUMAR बुध नव॰ 18, 06:12:00 pm 2009  

दुखद घटना, मृत खिलाडिय़ों को श्रद्धाजंलि ।

Related Posts with Thumbnails

ब्लाग चर्चा

Blog Archive

मेरी ब्लॉग सूची

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP