राजनीति के साथ हर विषय पर लेख पढने को मिलेंगे....

सोमवार, मई 04, 2009

वोट नहीं नोट

दक्षिण अफ्रीका में अपनी आईपीएल टीम को छोड़कर किंग खान यानी शाहरुख खान जब भारत लौटे थे तो उन्होंने इसके पीछे का कारण मतदान यानी वोट को बताया था कि वे मतदान करना चाहते हैं इसलिए लौटे हैं। लेकिन हकीकत का पर्दाफाश तो इसके बाद हुआ कि जवाब वास्तव में वोट देने की मोहब्बत में नहीं बल्कि नोट कमाने की चाह में भारत लौटे थे।

दरअसल किंग खान को एक निजी समारोह में अपने डांस के जलवे दिखाने के लिए तीन करोड़ रुपए का ऑफर था। भला किंग खान इतने बड़े ऑफर को कैसे ठुकरा सकते थे। सो खान साहब वापस लौटे। अब जबकि उनको लौटना था तो उन्होंने इसके लिए बहाना बनाया कि उनको वोट देना है। अगर खान मियां यह कहते हुए लौटते की उनको एक डांस के लिए जाना है शायद यह सवाल खड़ा होता कि खान मियां को अपने डांस और फिल्मों से इतना ही ज्यादा लगाव है तो वे आखिर आईपीएल से क्यों जुड़े। मान गए किंग खान बहाने बनाना तो कोई आप से सीखे। अब यह आपको तय करना है कि वास्तव में किंग खान को वोट से मतलब है या फिर नोट से ।


आपके विचार आमंत्रित हैं।

5 टिप्पणियाँ:

guru सोम मई 04, 10:08:00 am 2009  

दुनिया नोट की ही दीवानी है गुरु

ranju सोम मई 04, 01:06:00 pm 2009  

फिल्मी कलाकार लोकप्रियता पाने के लिए जो करें कम है। किंग खान अगर यह कहते हुए अफ्रीका से वापस आते कि उनको एक डांस शो देना है तो उन पर ऊंगली उठ सकती थी। सामने चुनाव थे सो किंग खान को एक अच्छा बहान सुझ गया और उन्होंने चुनावी छक्का जड़ दिया।

pranav सोम मई 04, 01:13:00 pm 2009  

फिल्म स्टार पैसों के कितने दीवाने हैं यह बताने की जरूरत नहीं। पैसों के लिए ये सब कर सकते हैं। पैसों के सामने रिश्ते नाते मायने नहीं रखते हैं फिर तो यह वोट का मामला है। मान खान किंग खान को अच्छा उल्लू बनाया उन्होंने अपनी टीम को।

बेनामी,  सोम मई 04, 01:35:00 pm 2009  

न बाप बड़ा ने भईया सबसे बड़ा रुपइया ..... जय हो शाखरुख भईया

Related Posts with Thumbnails

ब्लाग चर्चा

Blog Archive

मेरी ब्लॉग सूची

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP