राजनीति के साथ हर विषय पर लेख पढने को मिलेंगे....

बुधवार, जुलाई 08, 2009

प्रिंस पहेली 3

हमारे एक मित्र हैं उनके तीन-तीन बैंकों में खाते हैं। उनकी आदत है कि वे जब भी किसी बैंक में जाते हैं तो जाते समय जहां बैंक के गार्ड को कुछ पैसे देते हैं, वहीं बैंक के अंदर चपरासी को चाय-नाश्ते के लिए भी कुछ पैसे देते हैं। एक दिन जब वे बैंक जाते हैं तो वे सोचकर जाते हैं कि वे आज सबको पांच-पांच रुपए देंगे।

पहली बैंक में जाते समय वे गार्ड को पांच रुपए का एक नोट देते हैं। जब वे अंदर जाते हैं तो उनके पास जितने पैसे रहते हैं बैंक से उनको डबल होकर मिलते हैं। वापसी में वे चपरासी को पांच रुपए देकर निकलते हैं।

दूसरी बैंक में भी वे गार्ड को पांच रुपए देकर अंदर जाते हैं। बैंक में उनको यहां पर भी जितने पैसे बचते हैं उसके डबल मिल जाते हैं। इस बैंक में भी वे चपरासी को पांच रुपए देते हैं।

तीसरी बैंक में अंदर जाने से पहले वे गार्ड को पांच रुपए देते हैं। अंदर उनके पैसे डबल हो जाते हैं। इस बैंक में भी वे चपरासी को पांच रुपए देते हैं। जब वे चपरासी को पांच रुपए देकर बैंक से वापस निकलते हैं तो उनके पास बिलकुल पैसे नहीं बचते हैं।

अब बताना यह है कि हमारे वे मित्र कितने पैसे लेकर बैंक जाते हैं।

13 टिप्पणियाँ:

guru बुध जुल॰ 08, 08:33:00 am 2009  

अरे ये तो रिश्वत का मामला लगता है गुरु

vinay,  बुध जुल॰ 08, 08:45:00 am 2009  

पैसे डबल करने वाले बैंक का पता मुझे भी बताएं, पैसों की तंगी चल रही है।

sammer बुध जुल॰ 08, 08:55:00 am 2009  

गणित में तो मैं कमजोर हूं फिर भी कोशिश करके देखता हूं क्या किया जा सकता है।

‘नज़र’ बुध जुल॰ 08, 09:14:00 am 2009  

सब अगड़म बगड़म हो गया, अगर हिसाब लगा पाये तो पुन: टिप्पणी देंगे।

---
नये प्रकार के ब्लैक होल की खोज संभावित

tina बुध जुल॰ 08, 09:27:00 am 2009  

तीन-तीन बैंकों में खाते और गार्ड और चपरासी को पैसे देने में कंजूसी।

ajay बुध जुल॰ 08, 09:45:00 am 2009  

हर बार गणित में ही क्यों उलझाते हैं, थोड़ा हटकर भी पूछे

dilip gedekar,  बुध जुल॰ 08, 10:18:00 am 2009  

क्या घांसू पहेली दी है बाप पसीना निकल गया, पर हल नहीं सुझ रहा है।

rohan बुध जुल॰ 08, 10:44:00 am 2009  

इतने भयानक आईडिया आपके दिमाग में आते कहां से हैं।

Udan Tashtari बुध जुल॰ 08, 04:05:00 pm 2009  

चेक कर लिया-रु. १३.१२५ ही सही है. विजेता घोषित कर लिजिये फिर रिश्वर को उकसावा देने की कमेटी गठित करते हैं.

रंजन बुध जुल॰ 08, 05:44:00 pm 2009  

माना उसके पास x रु है

पहली बैंक में जाते हुए दिये ५

बचे x - 5

बैंक में दुगने हुये तो हुए २x - 10

जाते हुए गार्ड को दिये ५ रु बचे 2x-15


दुसरी बैंक में जाते हुए दिये ५

बचे २x - २०

बैंक में दुगने हुये तो हुए ४x - ४0

जाते हुए गार्ड को दिये ५ रु बचे ४x-४5


तीसरी बैंक में जाते हुए दिये ५

बचे ४x - 5०

बैंक में दुगने हुये तो हुए ८x - 10०

जाते हुए गार्ड को दिये ५ रु बचे ८x-1०5

पर आप तो कह रहे है की कुच नही बचा?
तो
८x - 105 = 0

8x = 105

x = 105/8
= 13.125

अरे यही तो सभी बता रहे है.. सही बता रहे है..

हमने सोचा पुरा पर्चा हल कर ्लिखते है नहीं तो मास्साब सोचेगे नकल मारी है..:)

mahashakti बुध जुल॰ 08, 08:45:00 pm 2009  

जब सब बता रहे है तो काहे का दिमाग का माठा करना हमारा भी 13.125 लाक किया जाये।

Related Posts with Thumbnails

ब्लाग चर्चा

Blog Archive

मेरी ब्लॉग सूची

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP