राजनीति के साथ हर विषय पर लेख पढने को मिलेंगे....

सोमवार, जून 01, 2009

सुबह पानी की बौछार-शाम को दूध की धार

ये दो अद्भूत नजारे हैं बस्तर के जलप्रपात चित्रकूट के। सुबह के समय इसको देखने पर पानी की बौछारों का नजारा होता है। जब इसी को शाम ढ़लने के बाद दुधिया रौशनी में देखते हैं तो ऐसा लगता है मानो दूध की धार बह रही हो। रात को यहां लाइट लगने के बाद अब पर्यटक रात का नजारा देखने आते हैं। हमने इन दोनों चित्रों को अपने कैमरे में तब कैद किया था, जब हम वहां पर जनवरी में गए थे।

4 टिप्पणियाँ:

anu सोम जून 01, 05:33:00 pm 2009  

lagta hai bastar jana hi padega

ajay मंगल जून 02, 08:30:00 am 2009  

वाह क्या सीन है ....

नीरज गोस्वामी मंगल जून 02, 12:35:00 pm 2009  

गर्मियों के इस मौसम में आपके इन चित्रों से कितनी राहत मिली है बता नहीं सकता...वाह..तरो ताजा कर दिया आपने.
नीरज

Related Posts with Thumbnails

ब्लाग चर्चा

Blog Archive

मेरी ब्लॉग सूची

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP